झारखण्ड राज्य स्वास्थ्य

योग दिवस के लिए रांची को ही क्यों चुना? PM मोदी ने गिनाईं 3 वजहें

रांची में योग दिवस के कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आमजनों को संबोधित किया. प्रधानमंत्री ने यहां कहा कि आज देश-दुनिया के अनेक हिस्सों में लाखों लोग योग दिवस मना रहे हैं. दुनियाभर में योग के प्रसार के लिए मीडिया के साथी, सोशल मीडिया के लोग अहम भूमिका निभा रहे हैं. झारखंड में योग दिवस के लिए आना बहुत सुखद अनुभव है.

PM मोदी ने तीन ऐसे कारण गिनाएं जिनकी वजह से उन्होंने इस बार रांची में ही योग दिवस मनाने का निर्णय किया.

1. ये राज्य प्रकृति के करीब है, यही कारण है कि उन्होंने यहां पर योग दिवस मनाने का निर्णय़ किया.

2. इसके अलावा हमारी सरकार ने आयुष्मान योजना की शुरुआत भी रांची से ही की थी, इसलिए यहां पर योग दिवस मनाना लाजमी था.

3. रांची और स्वास्थ्य का रिश्ता इतिहास में दर्ज है. अब हमें योग को एक अलग स्थान पर ले जाना है. अब हमें गरीबों के घर तक योग को पहुंचाना है.

उन्होंने कहा कि योग हमारी संस्कृति का हिस्सा रहा है, झारखंड में भी नृत्य के जरिए इसे किया जाता है. जो शरीर को बल देता है. अब हमें आधुनिक योग की यात्रा को शहर से गांव की तरफ पहुंचाना है, ताकि आदिवासी के जीवन में भी ये अभिन्न हिस्सा बने.

प्रधानमंत्री ने कहा कि अलग योग जीवन का हिस्सा होगा, तो बीमारी कम होगी. सिर्फ दवाईयों के जरिए जीवन नहीं जिया जाना चाहिए, हमें illness से ज्यादा wellness पर फोकस करना चाहिए. उन्होंने कहा कि आज योग दिवस के मौके पर सरकार की तरफ से पुरस्कार भी दिया जा रहा है.

रांची में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले कि इस बार हर किसी का फोकस दिल की बीमारी को लेकर है, यही इस बार की थीम है. उन्होंने कहा कि भारत में दिल की बीमारियों से जुड़े मामले बढ़ें हैं. उत्तम स्वास्थ्य के लिए कि पानी, पोषण, पर्यावरण और परिश्रम करना जरूरी है.

आपको बता दें कि जल्द ही झारखंड में विधानसभा के चुनाव भी होने हैं. ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि प्रधानमंत्री ने इसी वजह से रांची को चुना है. इससे पहले जब उत्तर प्रदेश में चुनाव था उससे पहले पीएम ने लखनऊ में योग दिवस मनाया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *