अपराध जगत उत्तर-प्रदेश राज्य

महागामा में दिनदहाड़े मोटरसाइकिल सवार को गोली मारकर की गई हत्या

संवाददाता- मुकेश कुमार
महागामा,गोड्डा

महागामा थाना क्षेत्र के महागामा गोड्डा मुख्य मार्ग एनएच 133 पर स्थित गोविंदपुर मोड़ के पास मंगलवार दिन दहाड़े मोटर साईकिल सवार ने दूसरे मोटर साइकिल को गोली मार कर हत्या कर दी। मृतक की पहचान चामू लोहार ( 46 ) वर्षी , ग्राम हाहाजोर , थाना ललमटिया के रूप में कई गई है। सूत्रों ने आशंका जताया है कि घटना के पीछे जमीन विवाद बताया । मृतक अपने गांव में डीलर का काम किया करता था । वहीं घटना के सम्बंध में मृतक के लड़के संदीप कुमार ने बताया कि गांव के कुछ लोगों ने घटना को अंजाम दिया होगा क्योंकि इसके पीछे जमीन विवाद का मामला था। जिसका अदालत में केस चल रहा था । अदालत द्वारा हमलोगों के पक्ष में फैसला दिया है। उन लोगों द्वारा बार बार जान से मारने की धमकी दी जा रही थी । जिसको लेकर थाना में पूर्व से ही मामला दर्ज कराया गया था फिर भी पुलिस की ओर से कोई कार्यवाही नहीं हुई थी। वहीं बताया कि घटना की सूचना मिलते ही मैं अस्पताल पहुँचा तो मैं अपने पिताजी को मृत पाया साथ ही बताया कि पिताजी महागामा किसी काम से आए थे और साथ में पिताजी कुछ पैसे भी लेकर जा रहे थे । घटना के संबंध में बताया गया कि वापस घर जाने के क्रम में एक अज्ञात मोटर साईकिल सवार ने पीछे से पीठ में गोली मार दी जिससेे वह हड़बड़ा कर वहीं गिर गया जिससे उसकी मौत घटनास्थल पर ही हो गई। इधर पुलिस को सूचना मिलते ही एसडीपीओ डॉ वीरेंद्र कुमार चौधरी , पुलिस निरीक्षक अशोक कुमार सिंह , थाना प्रभारी सूरज कुमार अपने दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुँच कर शव को उठाकर महागामा अस्पताल लाया गया। वहीं घटना की जानकारी मिलते ही जिला मुख्यालय से एसपी शैलेंद्र वर्नवाल महागामा पहुँच कर घटना स्थल का जायजा लिया और आगे की कार्यवाही करने की बात कही। मृतक के लड़के ने गांव के कई लोगों का घटना के पीछे हाथ होने का बताया है जहाँ पुलिस ने मामला दर्ज कर छानवीन शुरू कर दी है तथा शव को पोस्टमार्टम के लिए गोड्डा भेज दिया। अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी डॉक्टर विरेंद्र कुमार चौधरी ने बताया कि स्वयं आरक्षी अधीक्षक शैलेंद्र वर्णवाल घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की छानबीन कर रहे है तथा अपराधी की जल्द से जल्द धड़पकड़ लिया जाएगा और उसे बक्सा नहीं जाएगा साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि मृतक के पास से एक लाख 80 हजार रुपए नगद मिला जिसे परिजनों पैसे को सुपुर्द कर दिया गया । वहीं परिजनों का रो रो कर बुरा हाल हो रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *