राज्य

दिनांक 07.08.2019 दिन बुधवार को पूरनमल सावित्री देवी बाजोरिया सरस्वती शिशु मंदिर नरगाकोठी के प्रांगण में विद्यालय के भैया/बहनों द्वारा तुलसी जयंती मनाई गई

तुलसीदास जयंती
दिनांक 07.08.2019 दिन बुधवार को पूरनमल सावित्री देवी बाजोरिया सरस्वती शिशु मंदिर नरगाकोठी के प्रांगण में विद्यालय के भैया/बहनों द्वारा तुलसी जयंती मनाई गई ।विद्यालय के प्रधानाचार्य अजीत कुमार एवं जयंती प्रमुख अभिजीत आचार्य के द्वारा तुलसीदास जी के चित्र पर पुष्पार्चण एवं दीप प्रज्वलित कर किया गया ।
प्रधानाचार्य अजीत कुमार ने बताया कि सम्पूर्ण भारतवर्ष में महान ग्रंथ रामचरितमानस के रचयिता गोस्वामी तुलसीदास के स्मरण में तुलसी जयंती मनाई जाती है ।श्रावण मास की अमावस्या के सातवें दिन तुलसीदास की जयंती मनाई जाती है ।जीवन में हर स्थिति का सामना मजबूती से करने की सीख तुलसीदास के रामचरितमानस के दोहे से मिलता है परिस्थिति कितनी ही विपरीत क्यों न हो मनुष्य के ये सात गुण उनकी रक्षा करते हैं ।आपका ज्ञान और शिक्षा, आपकी विनम्रता, आपकी बुद्धि, आपके भीतर का साहस, आपके अच्छे कर्म, सच बोलने की आदत और राम यानी ईश्वर में विश्वास ।
डॉ संजीव कुमार ठाकुर ने बताया कि यदि गोस्वामी तुलसीदास के बताये मार्ग पर मानव चले तो उनका जन्म लेना सार्थक हो जायेगा ।सम्पूर्ण विश्व सुगन्धमय फुलवारी बन जायेगा तथा मानव को यह पूरा संसार सिया राममय दिखने लगेगा ।
अभिजीत आचार्य ने कहा कि गोस्वामी तुलसीदास जी मानव मात्र को अपने दोहे द्वारा समझाना चाहते हैं कि मनुष्य को दया करना कभी नहीं छोड़ना चाहिए क्योंकि दया ही हर धर्म का मूल यानी जड़ है ।तुलसीदास के दोहे ऐसे हैं जिसमें जीवन जीने की सीख दी गई है जो आज के समय में पूरी तरह लागू होती है ।
तुलसी जयंती के अवसर पर विद्यालय में कक्षा द्वितीय से पंचम तक के भैया/बहनों द्वारा रामचरितमानस पाठ किया गया ।
इस अवसर पर मनोज तिवारी, शशि भूषण मिश्र, अमर ज्योति, गोपाल सिंह, सुबोध ठाकुर, शशि कांत गुप्ता, उपेन्द्र प्रसाद साह,अंजू रानी, ललिता झा, कविता पाठक, रेणु कुमारी एवं सभी भैया/बहन उपस्थित थे ।
मीडिया प्रभारी
(भागलपुर विभाग)
शशि भूषण मिश्र
9934045325

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *