राजनीति

जाप के छात्र नेताओं ने जाप संरक्षक पप्पू यादव की सुरक्षा वापस लेने को लेकर केंद्र सरकार की घोषणा का कड़ी निंदा किया

जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव जी की केन्द्रीय सुरक्षा (CRPF) वापस लेने की केंद्र सरकार की घोषणा का हम कड़े शब्दों में निंदा करते हैं, सुल्तान अली l
और केंद्र सरकार से मांग करते हैं कि उनकी सुरक्षा व्यवस्था को पुर्ववत बहाल किया जाय।

वहीं जन अधिकार पार्टी के छात्र महानगर अध्यक्ष, सुल्तान अली ने कहा की जिस तरह बिहार के गरीबों , शोषितों , पीड़ितों और युवाओं की आवाज बनकर पप्पू यादव जी उभड़े हैं और बिहार के साढ़े ग्यारह करोड़ लोगों की उम्मीद बन चुके हैं,उनको कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की आवश्यकता है। आज भी जिस समय दिल्ली से केंद्रीय सुरक्षा वापस लेने की खबर बन रही थी , उस वक्त भी वे सुपौल में बाढपीड़ितों के बीच उनकी पीड़ा बांट रहे थे और मदद कर रहे थे।
बिहार में कहीं भी कोई घटना हो या प्राकृतिक आपदा आई हो तो वहां के सभी लोगों की जुबान पर एक ही नाम आता है कि जल्दी से पप्पू यादव जी को खबर करो , कोई आये या नहीं आये ,वे जरूर आयेंगे। चाहे वह मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से पीड़ितों का मामला हो या आरा जिले में कस्तुरबा विद्यालय का मामला हो। आज भी लगातार 15 दिनों से बाढपीड़ितों के बीच भुखे प्यासे रहकर उनकी पीड़ा बांटने और सहयोग करने का काम कर रहे हैं।
यहाँ तक कि बिहार में सोई हुई विपक्ष की भूमिका भी पप्पू यादव जी और उनकी जन अधिकार पार्टी ही निभा रही है और सरकार को जगाने का काम कर रही है।
पहले भी कई बार उनको जान से मारने की धमकियाँ भी मिल चुकी है। इसलिये केंद्र सरकार से मेरा आग्रह है कि उनकी सुरक्षा व्यवस्था को पुर्ववत बहाल किया जाय।

रिपोर्ट अरविंद अकेला मुज़फ्फरपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *